MX Original Pati Patni Aur Wo Season 1 Episode 2 "Chai me cheeni" Recap | Pati Patni Aur Wo Season 1 Episode 2 की‌ कहानी | KapilDevIsHere

Pati patni Aur woh 2


MX Original Pati Patni Aur Wo Season 1 Episode 2 "Chai me cheeni" Recap

Rimjhim की खूबसुरती देखकर तो Mohan बाबु के होशं ही उड गए है। वैसे होश तो किसी के भी उड़ जाएंगे अगर उन्हें शादी की पहली रात को ही पता चले कि उसकी बीवी किसी जन्नत की किसी अप्सरा से कम नही है। Mohan अपनी नवेली दुल्हन बीवी को देखता रहता है और अपनी भूत बन चूकी पत्नी को भूल जाता है जो उसे आवाज़ लगाती रहती है। जब सामने अप्सरा बैठी हो तो चुड़ैल पर किसी का घ्यान कैसे जाएगा इसलिए जब उसकी स्वर्गवासी बीवी जो मरने के बाद भूत बन चुकी है, उसके आगे पीछे घूम रही है। 

वह Mohan से अकेले में बात करने के लिए उसे बाहर बुलाती है और वह उसकी शादी तुड़वाने की कोशिश करती है। उसे लगता है कि वह लड़की उसके पति Mohan को बिगाड़ देगी उसका सत्यानाश हो जाएगा क्योंकि उसके आते ही वह जुवारी की भाषा बोलने लगा था। लेकिन असल में बात यह थी कि उसे उसकी नई पत्नी Rimjhim से जलन‌ हो रही थी क्योंकि वह उससे ज्यादा खूबसूरत है। 


चाहे जो भी हो Surbhi चाहती कि वह यह शादी तोड़ दे पर Mohan उसे याद दिलाता है कि वह भी लड़की की शक्ल देखें बिना ही शादी के लिए तैयार हो गया था क्योंकि वह उसकी आखरी इच्छा थी।  ‌लेकिन अब जब नसीब ने उसका साथ दिया और उसे एक ख़ूबसूरत बीवी मिल गई तो वह उससे तलाक करवाना चाहती है। Mohan शादी तोड़ने से मना कर देता है पर वह अपनी भूतिया बीवी की बात मानकर अपनी अप्सरा बीवी से दूर रहने की बात मान जाता है।


Read Also: MX Original Pati Patni Aur Woh Episode 1 Recap


पछतावा

वह अपनी बीवी Rimjhim से कहता है कि पंडित जी ने उसे उसकी स्वर्गवासी बीवी की आत्मा की शांति के लिए दो हफ्तों तक ब्रह्मचर्य का व्रत रखने को कहा है। इसलिए उसे अकेले ही घर के आंगन में अपनी रात गुजारनी पड़ती है। सुबह हमारे 3G भईया आते हैं और उसे बाहर सोता देख उसपर तरस खाता है। उसे बताता है कि उसे घुंघट वाली लड़की की शक्ल देखें बिना उससे शादी नही करनी चाहिए था। वह खुश था कि उसने उस लड़की को शादी के लिए मना कर दिया था वरना वह आज अपने फैसले पर पछता रहा होता और उसकी हालत Mohan के जैसी होती। लेकिन उसकी यह सोच तुरंत बदल जाती है जब वह Mohan की बीवी और उसकी हो चुकी भाभी Rimjhim को देखता है। वह Rimjhim को देखता है और देखता है और देखता ही रहता है फिर उसे एहसास होता है कि उससे वह रिश्ता ठुकराकर कितनी बड़ी गलती हो गई है। लेकिन अब पछताये होत क्या जब लडकी बन गई भाभी। गंगा किनारे रिमझिम भाभी, रिमझिम भाभी का जाप लगाने के बाद वह कसम खाता है कि वह रिमझिम भाभी को ग़लत नज़र से कभी नही देखेंगे क्योंकि भाभी मां समान होती है।


MX Original Pati Patni Aur Wo Season 1 Episode 2 "Chai me cheeni"  Ending

Mohan और Rimjhim की बातें, मुलाकाते और उनके बीच प्यार शुरू होने लगती है, लेकिन हर बार जब दोनों करीब आने की कोशिश करते उसकी भूतिया बीवी उनके बीच आ जाती है। उसकी भूतिया बीवी उसे और रिमझिम को कभी अकेले होने ही नहीं देती, वह Mohan पर नजर रख रही‌ है ताकि वह Rimjhim के करीब ना जा पाए। इसलिए वह कहीं भी कभी भी अचानक से प्रकट हो जाती है और उसे डरा देती है। वह अपनी बीवी के साथ मंदिर जा रहा है पर उसकी स्वर्गवासी पत्नी या कहें उसकी भूतिया पत्नी उसे उसके साथ अकेले जाने नही देना चाहती है। वह उसे समझाता है कि उसे टेंशन लेने की कोई जरूरत नही है क्योंकि रिमझिम एक धार्मिक टाइप की लड़की है जो पूजा करने के लिए मंदिर जा रही है। लेकिन रिमझिम के बाहर आते ही हमें उसकी पूरी धार्मिकता छलकते हुए दिखाई देता है।

Lesson Learned From MX Original Pati Patni Aur Wo Season 1 Episode 2 "Chai me cheeni" 

  • Risk Hai to Ishq Hai.
  • पछतावे से डरें नहीं क्योंकि सही फैसला लेने के बाद भी पछतावा होता है और गलत फैसला लेने पर तो पछतावा होता ही है।

Previous Post Next Post